United Bank of India - Home
English     
united bank of india
screen   : नेविगेशन | मुख्य भाग
  होम  »  RTIAct
नया क्या है
  हम तक पहुंच सकते है?
सूचना अधिकार अधिनियम
 
बैंक के अपीलीय प्राधिकरण


2. सूचना का अधिकार कोई व्‍यक्ति इस अधिनियम के अंतगत सूचना प्राप्‍त करना चाहता है तो उसे लिखित रूप में या इलेक्‍ट्रानिकी माध्‍यम से अंग्रेजी या हिंदी या उस प्रदेश की राजभाषा में अनुरोध करना होगा, जिसके साथ बैंक द्वारा समय समय पर निर्धारित शुल्‍क का भुगतान करना होगा. जहॉं आवेदक ऐसा अनुरोघ किसी वैध कारण से लिखित रूप में देने में असमर्थ है, तो हमारे जन सूचना अधिकारी ऐसे व्‍यक्ति से मौखिक रूप से उसका अनुरोध सुनकर उसे लिखित रूप देने केलिए हर संभव सहायता करेंगे. अनुरोध करने वाले आवेदक को सूचना मांगने के कारण देना आवश्‍यक नहीं है या उसके साथ संपर्क करने के लिए आवश्‍यक विवरण के अलावा कोई अन्‍य विवरण देना भी उसके लिए आवश्‍यक नहीं है.

सभी जनता निम्‍नांकित विषयों के संदर्भ में प्रश्‍न पूछ सकते हैं :

1

हमारी संस्‍था से संबंधित विवरण

2

हमारी संरचना

3

हमारी नीतियॉं

4

हमारा शिकायत निपटान तंत्र

5

हमारी वेतन संरचना

6

हमारे उत्‍पाद


इस सूची में शामिल नहीं की गई बिंदुओं पर भी प्रश्‍न पूछे जा सकते हैं. हमारे जन सूचना अधिकारी उनके उत्‍तर प्रस्‍तुत करेंगे.

3. हमारी संस्‍था हमारा प्रधान कार्यालय 11 हेमंत बसु सारणी, कोलकाता 700 001 में स्थित है.


क्षेत्रीय कार्यालयों की सूची

4. हमारे अधिकारियों और कर्मचारियों के अधिकार/कर्तव्‍य हमारे अधिकारियों के अधिकार विभिन्‍न श्रेणियों के अनुसार अलग-अलग हैं और प्राधिकारिक शक्तियों का प्रयोग अधिकारी के पदनाम पर निर्भर करता है. ग्राहकों को झंझट-रहित सेवाएं प्रदान करना हमारे अधिकारियों और कर्मचारियों का कर्तव्‍य है. हमारे समस्‍त कर्मचारी अपने आचरण के लिए जिम्‍मेदार हैं. हमारे कर्मचारियों द्वारा कर्तव्‍यों की पूर्ति के विषय में हमारे सेवा विनियम विद्यमान हैं, जो सभी के लिए समान रूप से लागू हैं.

5. . अनुदेशों की संहिता सुचारु रूप से कार्य- परिचालन सुनिश्चित करने के लिए हमने अपनी सभी शाखाओं और कार्यालयों के लिए अनुदेश संहिता तैयार की और वितरित की. इनके अलावा समय समय पर विभिन्‍न परिपत्र भी जारी किए जाते हैं. बैंक के विभिन्‍न कार्य, जैसे, जमाराशियॉं, सेवाएं, प्रेषण, अग्रिम, विदेशी मुद्रा विनियम, नकदी, निरीक्षण, सतर्कता और प्रलेखीकरण, आदि सभी विषयों पर अनुदेश संहिता में विस्‍तृत सूचनाएं दी गई हैं.

6. हमारे रिकार्ड Tसूचना अधिनियम, 2005 के अनुसार भारतीय रिजर्व बैंक के अनुदेशों के आधार पर बैंक सभी प्रकार के रिकार्ड और प्रलेख संजोता है. खाताधारक के विशेष अनुरोध पर ये रिकार्ड उपलब्‍ध कराये जाते हैं. सामान्‍यतया ये रिकार्ड संबंधित शाखा/कार्यालय में रखे जाते हैं.

7. हमारी नीति बैंक की नीति का उद्देश्‍य यह है कि अलग अलग ग्राहकों के साथ व्‍यवहार करते हुए अधिकतम पारदर्शिता लाना और उनके बीच उनके अधिकारों और अपेक्षाओं के प्रति जागरूकता लाना ताकि जिन सेवाओं के लिए वे हकदार हैं, वे उसे बिना मांगे मिलें. यह नोट किया जाए कि आवधिक रूप से किए गए सर्वेक्षणें के फीडबैक, प्राप्‍त शिकायतों और भारतीय रिजर्व बैंक तथा भारतीय बैंक संघ से प्राप्‍त विविध अनुदेशों आधार पर बैंक अपनी नीतियॉं, नियम तथा विनियम बनाता है. अत: इन नियम व नीतियों को बनाते समय जनता के प्रतिनिधियों की भागीदारी की आवश्‍यकता नहीं है.
 
back next
आप यूबीआई के द्वारा 10 विभिन्न योजनाएं उपलब्ध हैं. आप सबसे उपयुक्त विधा के अनुसार उनका चयन कर सकते हैं.
Valid XHTML 1.0 Transitional Valid CSS! WCAG 2.0 (Level AA) ipv6 ready
Site best viewed in resolution of 1024x768 Pecs logoPECS